हमेशा कोई न कोई कहीं न कहीं होता है

हर किसी के जीवन में एक एेसा वक्त आता है, जब हमारे जीवन में कुछ भी सही नहीं होता है। आपको हर तरफ से असफलता मिलती है और आप जिंदगी से निराश हो जाते हैं। आपका आत्मविश्वास टूट जाता है और आपको लगता है कि आपका जीवन बेकार है। लेकिन यह सच नहीं है।

हमेशा कोई न कोई, कहीं न कहीं, होता है, जो आपके साथ रहने की इच्छा रखता है।

हमेशा कोई न कोई, कहीं न कहीं, होता है, जो आपके चेहरे पर एक मुस्कान देखने के लिए घंटों इंतजार करता है।

हमेशा कोई न कोई, कहीं न कहीं होता है, जो आपके लिए मुश्किलों से भरे पहाड़ों को पार करने के लिए खुशी से तैयार रहता है।

हमेशा कोई न कोई, कहीं न कहीं होता है, जो आपसे मिलने के लिए हजारों मीलों के फासले पार करने में भी संकोच नहीं करता है।

उनके लिए जीना सीखिये। अपने जीवन को व्यर्थ समझने की भूल कभी मत कीजिए,क्योंकि कोई आपको देखकर अपने जीवन को जीने की बात करता है।

हो सकता है कि वे आपके साथ हों, हो सकता है कि वे आपके माता-पिता हों, हो सकता है कि वे आपके भाई बहन हों, हो सकता है कि वो आपकी पत्नी या पति हों या फिर कोई एेसा हो जिससे आपका कोई सांसारिक रिश्ता न हो।

यह भी हो सकता है कि आपके जीवन में ऐसा कोई व्यक्ति न हो। फिर उनके लिए प्रतीक्षा कीजिये। निश्चित रूप से वे आपके जीवन में एक न एक दिन जरूर आ जाएंगे।

किसी ऐसे व्यक्ति के लिए जिंदगी को जीना शुरू कीजिए जो आपके लिए जीना चाहता है। एेसा करने से आपकी जिंदगी निश्चित रूप से पहले से सुंदर हो जाएगी और आपको खोया हुआ आत्मविश्वास फिर मिल जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.